You are here
Home > देश-विदेश > 8 साल के नियाल ने इंटरनेट से सीखीं 106 भाषाएं, अब अपने माता-पिता को सिखाएंगे

8 साल के नियाल ने इंटरनेट से सीखीं 106 भाषाएं, अब अपने माता-पिता को सिखाएंगे

चेन्नई के रहने वाले 8 साल नियाल ठोगुलुवा 106 तरह की भाषाओं को पढ़ और लिख सकते हैं। इनमें से 10 भाषाओं को धाराप्रवाह तरीके से बोल भी सकते हैं। नियाल 5 और तरह की भाषाएं सीखने की कोशिश में लगे हैं। उन्हें उम्मीद है जल्द ही यह लक्ष्य पूरा हो जाएगा।

भाषा के सही उच्चारण के लिए सीखा इंटरनेशनल फोनेटिक अल्फाबेट
नियाल ये 106 तरह की भाषाओं को सीखने के लिए किसी तरह लैंग्वेज ट्रांसलेटर की मदद नहीं ली है। इंटरनेट और यू-ट्यूब की मदद से अलग-अलग तरह की भाषाओं को बोलना, पढ़ना और लिखना सीखा है।

भाषा का उच्चारण बेहतर तरीके से किया जा सके, नियाल ने अपनी लर्निंग में इस बात का ध्यान रखा है। इसके लिए उन्होंने इंटरनेशनल फोनेटिक अल्फाबेट को भी सीखा है। इंटरनेशनल फोनेटिक अल्फाबेट को 19वीं शताब्दी में अलग-अलग भाषाओं के सटीक उच्चारण को समझने के लिए बनाया गया था।

नियाल कहते हैं कि उन्हें खुद नहीं मालूम भाषाओं के प्रति इतना लगाव कब और कैसे विकसित हुआ। नियाल अब माता-पिता को ये भाषाएं सिखा रहे हैं। पिता शंकर नारायणन कहते हैं नियाल को बेहद कम उम्र में इतनी भाषाओं का ज्ञान हुआ है यह उसकी लगन और मेहनत का नतीजा है।

Leave a Reply

Top