You are here
Home > Politics > उम्मीद कम थी, डर भी था, फिर भी जीत गए

उम्मीद कम थी, डर भी था, फिर भी जीत गए

77 में से 26 कोरोना संक्रमितों ने दी महामारी को मात

धार.
कोरोनावायरस से फैली महामारी का नाम सुनते ही शरीर में कंपकपी छूट जाती है और दिल घबराने लगता है, वहीं जिले भर के 26 कोरोनावायरस से लड़ रहे संक्रमितों ने बीमारी को मात दे दी. गौरतलब है कि 6 मई तक जिलेभर में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 77 थी, जिनमें से एक की मौत हो चुकी है जबकि 26 ठीक होकर घर लौट चुके हैं.
हमने जब संक्रमण से लड़ ठीक हो चुके मरीज से बात की तो रूंधे गले से उसने ना केवल स्वास्थ्य विभाग बल्कि कलेक्टर और पुलिस महकमे की भी खूब तारीफ की. स्वस्थ हो चुके व्यक्ति ने कहा कलेक्टर श्रीकांत बनोठ की तत्परता और पुलिस की मदद के कारण ही उसे तत्काल उपचार मिलना शुरू हुआ और महाजन अस्पताल में हो रहे इलाज और वहां के स्टाफ के अपनेपन से वह ठीक हो गया. कुछ और ठीक हो चुके लोगों की भी इसी तरह की प्रतिक्रिया रही, जिन्होंने प्रशासन की और स्वास्थ्य महकमे की खूब तारीफ की. डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ की तारीफ करते हुए उनकी आंखें छलक आई. बता दें कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरसी पनिका ने 6 मई को जिस रिपोर्ट की पुष्टि की उसमें 50 कोरोना पॉजिटिव बताए गए. इनमें से 47 धार के ही अधिग्रहित अस्पतालों में हैं, जबकि 3 इंदौर के अस्पताल में इलाज ले रहे हैं.

Leave a Reply

Top