You are here
Home > Politics > स्वर्ण अक्षरों से लिखे जाएंगे मोदी सरकार के 6 साल

स्वर्ण अक्षरों से लिखे जाएंगे मोदी सरकार के 6 साल

दूसरे कार्यकाल के 1 वर्ष पूर्ण होने पर रतलाम विधायक कश्यप ने गिनाई उपलब्धियां


धार.
केंद्र में भाजपा शासनकाल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में लगातार 6 साल पूरे हो गए हैं. 6 साल में अनगिनत उपलब्धियों और बेतरतीब कायाकल्प को लेकर ना केवल राजनीती में हलचल है बल्कि जनता खुश है. मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में 1 वर्ष पूर्ण होने पर बुधवार को रतलाम विधायक चैतन्य कश्यप ने धार जिला भाजपा अध्यक्ष राजीव यादव के साथ पत्रकारों से चर्चा की. इस दौरान कश्यप ने पिछले 6 सालों के मोदी कार्यकाल की उपलब्धियां बताते हुए कहा कि मोदी सरकार के इन 6 सालों के कार्यकाल को स्वर्ण अक्षरों में अंकित किया जाएगा.
भाजपा के वरिष्ठ नेता व विधायक चैतन्य कश्यप ने भाजपा कार्यालय पर चर्चा करते हुए कहा मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 1 वर्ष पूर्ण होने पर  केंद्र सरकार की उपलब्धियों को  बताया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के दूसरेेे कार्यकाल के पहले वर्ष में देश ने कई उपलब्धियां हासिल की है, जो गौरवशाली है. मोदी के नेतृत्व में जो भी निर्णय लिये गये उसमें देश हित का पहले ध्यान रखा गया. देश की आजादी के बाद से ही कश्मीर में लागू की गई धारा 370 को हटाने के लिये उस समय जनसंघ के नेताओं ने कश्मीर की जेलों को भर दिया था और पहला बलिदान डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी का हुआ. भारतीय जनता पार्टी ने नारा दिया “जहां हुए बलिदान मुखर्जी वह कश्मीर हमारा है और सारा का सारा है.” हमें लगता था कि कश्मीर से धारा 370 और 35 ए हटना बहुत मुश्किल है, लेकिन मोदीजी के नेतृत्व और अमित शाहजी की चाणक्य नीति से एक ही दिन में यह धारा हट गई. देशवासियों ने जो सपना देखा था वह मोदीजी के नेतृत्व में पूरा हुआ. 
मोदीजी के नेतृत्व वाली सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक वर्ष कई उपलब्धियों से भरा पड़ा है. कई साहसिक व क्रांतिकारी निर्णय पूर्ण क्षमता के साथ लिये गये. देश का इतिहास जब भी लिखा जायेगा, मोदी सरकार के अब तक के 6 वर्षो के कार्यकाल को स्वर्णाक्षरों में अंकित किया जायेगा. बीते एक वर्ष में मोदीजी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने जो बड़े निर्णय लिये वे भारत के इतिहास और राजनीति में हमेशा-हमेशा के लिये बड़ी उपलब्धि के तौर पर दर्ज हो गये. मोदी सरकार 2.0 के सत्ता में आते ही जम्मु कश्मीर से धारा 370 धाराशाही हो गई, मुस्लिम बहनों को ट्रिपल तलाक के अभिशाप से मुक्ति मिली. समग्र राष्ट्र का अयोध्या में भव्य राम मंदिर का सपना पूरा हुआ, केन्द्र सरकार ने वे सारे दस्तावेज सुप्रीम कोर्ट को पहुंचाये जिससे सुप्रीम कोर्ट की बेच ने सत्यापन करने के बाद राम मंदिर के पक्ष में फैसला दिया. कांग्रेसी हमेशा हमारे नारे मंदिर वहीं बनायेंगे पर बोलते थे कि तारीख नहीं बतायेंगे, लेकिन अब मंदिर निर्माण कार्य शुरू भी हो चुका है, जिसकी खुदाई करने में मंदिर के कई अवशेष भी मिल रहे है. नागरिकता संशोधन कानून लागू हुआ, जिससे शरणार्थी बनकर हमारे देश में जीवन यापन करने वाले लोगो को नागरिकता मिल सके. आतंकवाद पर यूएपीए और एसपीजी के जरिये नकेल कसी गई आर्थिक सुधारों को और तेज किया गया तथा आत्म निर्भर भारत बनाने के अभियान की शुरूआत हुई. विपरीत परिस्थितियों में 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज देश के सभी वर्ग को देना मोदीजी का एक साहसिक कदम है. भारत ने कोरोना महामारी जैसे भीषण संकट से जुझते हुए इससे पार भी पाया और पार पाने की राह दुनिया को भी दिखाई. 
आपने कहा कि मोदी के नेतृत्व में देश का आत्मसम्मान भी प्राप्त किया. आजादी के बाद पहले प्रधानमंत्री मोदीजी हुए, जिन्होंने अपनी कुटनीति से दुनिया के सभी इस्लामिक राष्ट्रों को भी अपने साथ खड़ा किया. पाकिस्तान जैसे बेईमान और दोगले देश के साथ आज इस्लामिक देश भी नहीं खड़े है. मोदीजी के नेतृत्व ने इस निराशा के वातावरण में भी देशवासियों में आत्मविश्वास पैदा किया है. भारत में विश्वगुरू बनने की क्षमता आज भी है और इस ओर अग्रसर भी हो रहा है. पत्रकारों से चर्चा के अवसर पर धार जिला भाजपा अध्यक्ष  राजीव यादव,  विधायक  नीना वर्मा, संभागीय सह मीडिया प्रभारी  ज्ञानेंद्र त्रिपाठी भी मौजूद थे.

Leave a Reply

Top