You are here
Home > Politics > सहायता राशि पूरी तरह सुरक्षित है- कलेक्टर

सहायता राशि पूरी तरह सुरक्षित है- कलेक्टर

धार.
कलेक्टर श्रीकांत बनोठ ने कहा है कि शासन द्वारा जरूरतमंदों के बैंक खातों में डाली जा रही सहायता राशि पूरी तरह सुरक्षित है. इसे किसी भी स्थिति में वापस नहीं लिया जाएगा. ग्रामीण जन पैसे निकालने की जल्दबाजी में बैंकों में भीड़ न लगाएं. आपका पैसा आपके खाते में ही जमा रहेगा. कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूरी है.
ऐसी स्थिति में भीड़ लगाने से संक्रमण का खतरा और बढ़ेगा। कलेक्टर ने निर्देश दिया कि पंचायत के सचिव अपनी ग्राम पंचायतों में इस आशय की जानकारी ग्रामीणों को दें. ग्रामवासी अपना पैसा अपने गांव से लगे डाकघर से भी निकाल सकते हैं, चाहे उनका खाता किसी भी बैंक में हो. सिर्फ उनका आधार कार्ड उनके बैंक खाते से जुड़ा होना चाहिए. ज्ञात रहे कि महिलाओं के जनधन खातों में 500 रु जमा किये जा रहे हैं, जिसकी शुरुआत दिव्तीय किश्त रूप में 4 मई सोमवार से होने जा रही है. खाते के अंतिम अंक के हिसाब से हितग्राही राशि का आहरण कर सकते हैं. सभी नोडल अधिकारी यह सुनिश्चित करे कि शाखाओं में भीड़ नियंत्रित हो तथा अधिक से अधिक हिलगाही राशि का आहरण कियोस्क / बीसी पॉइंट/एसपी के दवारा करें. सभी नोडल अधिकारी शाखा प्रबंधक प्रबंधकों को निर्देश दिए गए हैं कि कियोस्क संचालक गांव में जाकर ग्राम पंचायत स्तर पर राशि का वितरण करें ताकि वृद्ध महिलाओं गर्मी के मौसम में होने वाली परेशानियों से बच सके. शासन द्वारा प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि, सामाजिक सुरक्षा पैशन की राशि भी जमा हो चुकी है. जिसके कारण लगातार राशि निकालने हेतु बैंक में भीड़ बढ़ रही है. निर्देशित किया गया है कि नित्य प्रतिदिन बैंक में परिसर व एटीएम का सैनिटाइजेशन किया जाए तथा कार्य के दौरान सामाजिक दूरी बनाए रखने का कड़ाई से अनुपालन से हो. 4 मई से धार जिले में बैंकों का करोबार समय सुबह 9 बजे से 3 बजे तक रहेगा.
बैंकों में अनावश्यक भीड़ ना रहे इसके लिए जिन खाता धारकों के खाता क्रमांक का अंतिम अंक शून्य और एक है वे 4 मई को बैंक आकर राशि निकाल सकते हैं। इसी प्रकार खाता क्रमांक का अंतिम अंक दो और तीन है वे 5 मई को, चार और पांच है वे 6 मई को, छ्ह और सात है वह 8 मई को, आठ और नौ है वे 11 मई को बैंक में आकर राशि निकाल सकते हैं।

Leave a Reply

Top