You are here
Home > Politics > स्पेशल एग्जाम विद होम आइसोलेशन

स्पेशल एग्जाम विद होम आइसोलेशन


लॉक डाउन में गणित के 50 हजार सवाल हल कर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराना चाहते हैं नन्हे शूरवीर


टारगेट के नजदीक पहुंच चुके भानपुरा के बच्चे


मंदसौर.
कोविड-19 का कहर भारत पहुंचा तो प्रधानमंत्री ने कहा घर में रहें, सुरक्षित रहें…मतलब उन्होंने सोशल डिस्टेंस व होम आइसोलेशन को प्राथमिकता दी. पीएम के इस फलसफे को मंदसौर जिले के भानपुरा निवासी एक मुस्लिम परिवार ने नए रुप में साकार करने की कोशिश की. बिजली कंपनी में कार्यरत पिता यूसुफ पठान ने अपने दो नन्हे बच्चों जैनब व मुज्जीमल को लॉक डाउन के दरमियान गणित के 50 हजार सवाल हल करने का टारगेट दिया तो बच्चे अब तक टारगेट के लगभग नजदीक पहुंच चुके हैं. 6टी व चौथी क्लास में पढ़ने वाले नन्हे बच्चे ना केवल प्रधानमंत्री के होम आइसोलेशन के प्रण को साकार करना चाहते हैं बल्कि गणित सवालों के बड़े टारगेट के साथ गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी नाम दर्ज कराने का फैसला ले चुके हैं.

पिता ने बनाए सवाल, बच्चे कर रहे हल
22 मार्च से लगे लॉक डाउन को समझते ही पिता यूसुफ ने बच्चों को कुछ नया करने की प्रेरणा दी और कहा कि आप गणित के सवाल हल करो. विशेषज्ञों की माने तो पहली से लेकर 10वीं कक्षा तक गणित की सभी किताबों का आकलन लगाया जाए तो 10 हजार से ज्यादा सवाल नहीं होंगे, लेकिन यूसुफ अपने बच्चों के लिए स्वयं सवाल तैयार कर रहे हैं. जानकारी के अनुसार यूसुफ अब तक 3 तरह की सरकारी नौकरी कर चुके हैं जो अब बिजली कंपनी में हैं इससे पहले वह गणित विषय के शिक्षक रह चुके हैं.

Leave a Reply

Top