You are here
Home > Politics > टोटल नाकाबंदी… कलेक्टर ने सील कर दी भानपुरा रामगंज मंडी की बॉर्डर

टोटल नाकाबंदी… कलेक्टर ने सील कर दी भानपुरा रामगंज मंडी की बॉर्डर

मंदसौर.


कोरोनावायरस से फैली महामारी से बचाव को लेकर मंदसौर जिला कलेक्टर मनोज पुष्प शुरू से ही काफी एहतियात बरत रहे हैं. पहला पॉजिटिव केस आते ही कर्फ्यू लगाने वाले कलेक्टर पुष्प ने रविवार को मंदसौर जिले से लगी रामगंज मंडी-भानपुरा बॉर्डर सील करवा दी.
कलेक्टर ने बताया कि रामगंजमंडी सुकेत थाने राजस्थान में कोरोना के 22 केस पॉजिटिव आने से अंतर राज्यीय सीमा पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। अंतरराज्यीय सीमा पर डाबला माधोसिंग, लेदी चौराहा व कालाकोट में बार्डर चेक पोस्ट बनवाये गए है। यहां चौबीसों घंटे पुकिस बल, चिकित्सा दल और ग्राम कोटवारों की ड्यूटी गई है. इसके अलावा उक्त स्थानो पर सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए है. इसके साथ ही अत्यावश्यक वस्तु वाले ट्रकों को पूर्णतः सेनेटाइज करने के बाद ही रवाना किया जाता है।
वो गांव जो इस बॉर्डर से लगे हैं उनमें ढाबला माधोसिंह के गांव भीमपुरा, केथुली, भगवानपुरा, दातला, बिडगांव, कालाकोट और संधारा के गांव के सरपंच व सचिवों से बात की ओर इन गांव को लोक डाउन करवा कर गांव की ही ग्राम रक्षा समिति के युवाओं की ड्यूटी लगा दी गई। साथ ही कच्चे रास्ते और पगडंडी को खुदवा कर नाली बनाई गई। राजस्थान से लगी संपूर्ण सीमा जेसीबी की मदद से रास्तों में खोदा गया है।
लेदी चौराहा, काला कोट,डाबला माधोसिंग पर कैमरे लगवाए गए। सैनिटाइजर मशीन की व्यवस्था की गई। इस मशीन के माध्यम से ट्रकों को सम्पूर्ण सेनेटाइज करने के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है। इस बॉर्डर पर लगे कर्मचारियों को इनका एक whatsup ग्रुप बनवाया गया और इनको उनमे जोड़ा गया। समस्त गाड़ियों व बाइक की एंट्री बंद है, सिर्फ आवस्यक वस्तुओ को छोड़कर। सभी पॉइंट्स पर मेडिकल टीम भी तैनात है जो स्टाफ के साथ ड्यूटी पर है ट्रक driver के चेक अप के बाद ही सीमा में एंट्री दी जा रही है वो भी सिर्फ दवाई ओर राशन वाले ट्रक को ही। सभी पॉइंट्स पर लगे स्टाफ के लिए पानी, मास्क , आदि की व्यवस्था की जा रही है। ड्रोन कैमरे की व्यस्वथा की गई है, ताकि पूरी सीमा की निगरानी की जा सके और कोई व्यक्ति थाना भानपुरा में प्रवेश न कर पाए। इस प्रकार सीमा पर कठोरता के साथ आवागमन बन्द किया गया है।

Leave a Reply

Top